चिराग पासवान ने कहा कि महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना को सरकार बनाने के लिए स्पष्ट जनादेश मिला था, लेकिन दोनों राजनीतिक दलों ने अपनी-अपनी महत्वाकांक्षा के चलते सरकार नहीं बनाई और वैकल्पिक गठबंधन बनाने की तलाश शुरू हुई.