Sunday, June 7, 2020

These five IAS officers will monitor Mumbai's private hospitals

मुंबई के प्राइवेट अस्पतालों की निगरानी करेंगे ये पांच IAS अधिकारी




कुछ निजी अस्पतालों पर यह भी आरोप लगे हैं कि वह कोरोना मरीजों के इलाज के लिए मनमाने पैसे वसूल रहे हैं. जबकि प्रदेश सरकार ने कोविड-19 ट्रीटमेंट पर कैप लगा रखा है. यानी कि अस्पताल, कोरोना के इलाज के लिए सरकार द्वारा तय किए गए फिक्स चार्ज को नहीं मान रहे हैं.





  • अस्पतालों पर IAS अधिकारी की होगी निगेहबानी
  • कोरोना मरीजों के साथ बेड के लिए नहीं होगी मनमानी

मुंबई के निजी अस्पतालों की जिम्मेदारी तय करने के लिए महाराष्ट्र सरकार ने रविवार को एक और बड़ा फैसला लिया है. महाराष्ट्र सरकार ने पांच आईएएस अधिकारियों को निजी अस्पतालों को लेकर मिलने वाली शिकायतों को देखने के लिए तैनात किया है. जाहिर है पिछले कुछ दिनों से कोरोना महामारी के दौरान कई निजी अस्पतालों पर मनमानी करने का आरोप लगा है. महाराष्ट्र सरकार ने उन्हीं शिकायतों को देखते हुए यह फैसला लिया है.

बृहन मुंबई महानगर पालिका (BMC) ने भी हाल के दिनों मे निजी अस्पतालों द्वारा मरीजों को भर्ती नहीं करने या ज्यादा फीस लेने की शिकायत सुनी थी और इसको लेकर प्रदेश सरकार के सामने अपनी बात रखी थी.


कुछ निजी अस्पतालों पर यह भी आरोप लगे हैं कि वो कोरोना मरीजों के इलाज के लिए मनमाने पैसे वसूल रहे हैं. जबकि प्रदेश सरकार ने कोविड-19 ट्रीटमेंट पर कैप लगा रखा है. यानी कि अस्पताल, कोरोना के इलाज के लिए सरकार द्वारा तय किए गए फिक्स चार्ज को नहीं मान रहे हैं. इसके साथ ही उनपर कोरोना बेड की जानकारी छिपाने का भी आरोप है.

महाराष्ट्र सरकार को इस फैसले से उम्मीद है कि अब निजी अस्पतालों की इन शिकायतों पर रोक लगेगी. महाराष्ट्र सरकार ने निजी अस्पतालों की निगरानी के लिए जिन पांच अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की है उनसे ईमेल के जरिए अपनी बात कही जा सकती है. यानी कि अब से मुंबई के 35 अस्पताल, इन पांचों अधिकारियों की देखरेख में होंगे. यदि हॉस्पिटल कोरोना मरीजों को बेड नहीं उपलब्ध कराते हैं, तो लोग संबंधित हॉस्पिटल के खिलाफ ईमेल से इन्हें शिकायत भेज सकते हैं.



1. मदन नागरगोजे (2007 बैच के IAS अधिकारी)- इनके पास बॉम्बे हॉस्पिटल, सैफी, जसलोक, ब्रीच कैंडी, एचएन रिलायन्स, भाटिया, कॉनवेस्ट और मंजुला एस बदानी जैन अस्पताल और एसआरसीसी हॉस्पिटल की जिम्मेदारी है. इन अस्पतालों से संबंधित शिकायतों के लिए मदन नागरगोजे को उनके ईमेल आईडी- covid19nodal1@mcgm.gov.in पर संपर्क कर सकते हैं.

2. अजित पाटील (2007 बैच के IAS अधिकारी)- इन्हें मसिना हॉस्पिटल, वोक्हार्ट हॉस्पिटल, प्रिन्स अली खान, ग्लोबल , केजे सोमैया, गुरु नानक और पीडी हिंदुजा हॉस्पिटल की जिम्मेदारी दी गई है. इन अस्पतालों से संबंधित शिकायतों के लिए अजित पाटील को उनके ईमेल आईडी- covid19nodal2@mcgm.gov.in पर संपर्क कर सकते हैं.

3. राधाकृष्णन (2008 बैच के IAS अधिकारी)- इन्हें रहेजा, लीलावती, होली फैमिली, सेवन हिल्स हॉस्पिटल (रिलायन्स), बीएसईएस, सुश्रुषा हॉस्पिटल और होली स्पिरिट हॉस्पिटल सौंपा गया है. इन अस्पतालों से संबंधित शिकायतों के लिए राधाकृष्णन को उनके ईमेल आईडी- covid19nodal3@mcgm.gov.in पर संपर्क कर सकते हैं.



4. सुशील खोडवेकर (2009 बैच के IAS अधिकारी)- कोहिनूर अस्पताल, हिन्दू सभा, एसआरवी चेंबूर, गैलेक्सी मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल, एलएच हिरानंदानी, सुराणा सेठिया और फोर्टीस अस्पताल की जिम्मेदारी इनके पास है. इसलिए इन अस्पतालों से संबंधित शिकायत के लिए सुशील खोडवेकर को उनके ईमेल आईडी- covid19nodal4@mcgm.gov.in पर संपर्क कर सकते हैं.

5. प्रशांत नारनवरे (2011 बैच के IAS अधिकारी)-करुणा अस्पताल, कोकिलाबेन, संजीवनी, नानावटी, अपेक्स और अपेक्स सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल की जिम्मेदारी देखेंगे. इन्हें शिकायत भेजने के लिए- covid19nodal5@mcgm.gov.in पर ईमेल कर सकते हैं.

No comments:

Post a Comment

MovieDekhiye

MovieDekhiye is one of the best entertaining site that provides the upcoming movies, new bollywood movies, movie trailers, web series and entertainment news.Get the list of latest Hindi movies, new and latest Bollywood movies 2019. Check out New Bollywood movies online, Upcoming Indian movies.




Pages

Contact Us

Name

Email *

Message *